Saturday, May 25, 2024

उत्तराखंड सतरुद्रा ट्रस्ट

Reg.No.IV/921/2019

Homeपर्यावरणसुसवा पुनर्जीवन संघर्ष समिति का गठन

सुसवा पुनर्जीवन संघर्ष समिति का गठन

उत्तराखण्ड सतरुद्रा ट्रस्ट की 18/03/2021 की बैठक में चर्चा हुई कि देहरादून की पुरानी नदियों रिस्पना और बिंदाल के किनारे रहने वाली कॉलोनियों से उत्पन्न अपशिष्ट और सीवरेज प्रदूषित पानी का इनमें निकास पहले से ही कम बचे पानी को और प्रदूषित कर रहा है। मोयरोवाला में ये दोनों नदियों मिलती है व आगे मुसवा नदी बनकर अंत में साँग नदी में मिल जाती है। यह क्षेत्र लगभग 50 किलोमीटर में फैला हुआ है। बीच में दो सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट भी है लेकिन पानी की गुणवत्ता विषैली होती जा रही है। ट्रस्ट ने पहल करते हुए ग्राम प्रधानों, पूर्व सैनिकों और क्षेत्र के प्रमुख लोगों के साथ कैमरी गांव पंचायत घर में 20-3-2027
संघर्ष समिति का गठन हुआ। इसमें अनेकों अन्य महत्वपूर्ण निर्णय भी लिये गये। इसके बाद दिनांक 04/04/2021 को “मुसत्या पुनर्जीवन संघर्ष समिति” की बैठक राजकीय इन्टर कालेज दूधली मे सम्पन्न हुई। जिसमें कई नये सुझाव आये बसर्वसम्मति से कोर कमेटी और कई तकनीकी समितियों का गठन किया गया।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here